वाक्यांश के लिए एक शब्द one word

वाक्यांश के लिए एक शब्द one word



वाक्यांश के लिए एक शब्द one word



किसी भी लेखन को श्रेष्ठ तभी माना जा सकता है जब वो सरल , सरस व संक्षिप्त हो । साधारण बोलचाल में भी यदि हम अपनी बात संक्षिप्त रूप में कहने में समर्थ हैं तो हमारी बात का महत्त्व बढ़ जाता है । भाषा के संक्षिप्तिकरण के लिए हमें ऐसे शब्दों का ज्ञान होना आवश्यक है जो थोड़े ही या एक ही शब्द में हमारे मन्तव्य को व्यक्त कर दे । यहां हम वाक्य या वाक्यांश के लिए एक शब्द दे रहें जो निश्चित तौर पर आपके भाषायी ज्ञान में वृद्धि करने में समर्थ होंगे ।


 वाक्यांश  

  एक शब्द  

 जिसका कथन न किया जा सके  अकथनीय
 मात्रा से अधिक वर्षा होना 
अतिवृष्टि
जिसको किसी तर्क से काटा न जा सकेअकाट्य
जिसे खाया न जा सके अखाद्य
वह स्थान जिस पर कोई जा न सके अगम्य
सबसे पहले गिना जाने वाला अग्रगण्य
वह जो पहले जन्मा हो अग्रज
वह जो इन्द्रियों द्वारा न जाना जा सकेअगोचर
वह जो कभी बूढ़ा न होअजर
वह जिसका कोई शत्रु पैदा ही न हुआ हो अजातशत्रु
वह जिस पर विजय प्राप्त न की जा सके अजेय
वह जो इन्द्रियों के अनुभव के परे हो अतीन्द्रिय
 वह जो दिखाई न दे
अदृश्य
 वह जिसकी तुलना न की जा सके अतुलनीय
वह जिसके जैसा दूसरा न हो अद्वितीय
वह जो दूर की बात न सोच सके अदूरदर्शी
पहाड़ के ऊपर की समतल भूमि अधित्यका 
आत्मा से सम्बन्धित
अध्यात्म
गजट में प्रकाशित सूचनाअधिसूचना
वह कथा जो मूलकथा में आएअन्तर्कथा
वह जो सबके मन की बात जानता हैअन्तर्यामी
अनेक राष्ट्रों के बीचअंतरराष्ट्रीय
 वह जिसका कोई अन्त न होअनन्त
वह जिसका दूसरे से सम्बन्ध न होअनन्य
वह जिसे किसी बात का पता न होअनभिज्ञ
वह जिसका कोई स्वामी ( नाथ ) न होअनाथ
पलकों को बिना गिरायेअनिमेष
वह जिसका वर्णन न किया जा सकेअनिर्वचनीय
वह जिसे रोका नहीं जा सकेअनिरुद्ध
वह जिसके अभाव में कोई कार्य संभव नहीं हो   अनिवार्य  
वह उक्ति जो परम्परा से चल रही हो अनुश्रुति
वह जिसके लक्षण प्रकार आदि न बताए जा सकेअनिर्वचनीय
वह जो अनुकरण के योग्य हो
अनुकरणीय
किसी कार्य के लिए दी जाने वाली सहायताअनुदान
वह जो बाद में जन्मा हो अनुज
वह जो व्यर्थ खर्च करता है अपव्ययी
वह कारण जिसे टाला न जा सकेअपरिहार्य
वह अंश जो पढ़ा हुआ न होअपठित
वह जिसकी पहले से आशा न की गई होअप्रत्याशित
वह जिस पर मुकदमा चल रहा होअभियुक्त
वह जिसे भेदा न जा सकेअभेद्य
वह जिसे कम ज्ञान हो अल्पज्ञ 
छ : माह में एक बार होने वालाअर्धवार्षिक
वह जिसका वध न किया जा सकेअवध्य
वह घटना जो अवश्य घटने वाली हैअवश्यम्भावी
वह जो कानून विरुद्ध हो 
अवैध
वह जो बिना वेतन के काम करेअवैतनिक
वह जिसे क्षमा न किया जा सकेअक्षम्य
फेंक कर चलाया जाने वाला हथियारअस्त्र
वह जिसमें कुछ भी ज्ञान न होअज्ञ
पूरे जीवन भर / जीवन तकआजीवन
अपनी ही हत्या करने वालाआत्महन्ता/आत्मघाती
पैर से लेकर सिर तकआपादमस्तक
शीघ्र प्रसन्न होने वाला 
आशुतोष 
वह जो ईश्वर में विश्वास रखेआस्तिक
जो इन्द्रियों की पहुँच के परे होइन्द्रियातीत
वह जो ऋण से मुक्त हो गया होउऋण
पर्वत के नीचे की भूमिउपत्यका
वह भूमि जिसमें कुछ भी न उपजता होऊसर
इतिहास से सम्बन्धितऐतिहासिक
वह जो कविता करती है कवयित्री
वृक्षों और लताओं से घिरा स्थानकुंज
वह जो बाह्य जगत् के ज्ञान से अनभिज्ञ हो कूपमंडूक
वह जो किए का उपकार मानेकृतज्ञ
वह जो कीटाणुओं को मारेकृमिघ्न
क्षण में नष्ट होने वाला
क्षण भंगुर
चार भुजाएँ हैं जिसके वहचतुर्भुज
क्षमा करने योग्य क्षम्य
चक्र है पाणि में जिसके वहचक्रपाणि
वह रचना जो गद्य - पद्य मिश्रित हो चम्पू
वह जिसकी कुछ जानने की इच्छा हो जिज्ञासु
वह चर्चा जिसका कोई प्रामाणिक आधार न होजनश्रुति
वह जो तीन कालों की बात जानता है त्रिकालज्ञ
वह जिसमें बाण रखे जाते हैं तरकश
वह जो तीनों गुणों से परे होत्रिगुणातीत 
तीनमाह में एक बार होने वालात्रैमासिक
वह जिसके दश मुख होदशानन
वह जिसके दश कन्धे होदशकंध
वह जिसे लाँघना कठिन हो दुर्लंघ्य
वह जिसे भेदना कठिन हो दुर्भेद्य
वह जिसका दमन करना कठिन हो 
दुर्दमनीय
वह जिसे पार करना कठिन हो दुस्तर
वह जिसका जन्म अभी हुआ हो नवजात
वह जो ईश्वर में आस्था न रखेनास्तिक
वह जो नाशवान है नश्वर
वह स्थान जहाँ कोई भी जन न होनिर्जन
बिना पलकें गिराये देखनानिर्निमेष
वह जिसे बाहर निकाल दिया गया होनिर्वासित
वह जो ममता से रहित होनिर्मम
वह जिसे अक्षरों का ज्ञान न होनिरक्षर
वह जो दूसरों के अधीन हो पराधीन 
वह जो रात्रि में विचरण करता है
निशाचर
पन्द्रह दिन में एक बार हो पाक्षिक
वह स्त्री जिसे उसके पति ने छोड़ दिया होपरित्यक्ता
परिश्रम के बदले दी गई राशिपारिश्रमिक
दोपहर के पहले का समयपूर्वाह्न
वह जो शीघ्र उत्तर देने की बुद्धि रखता है प्रत्युपन्नमती
वह जो बहुत कुछ जानता हैबहुज्ञ
वह जो दिखने में प्रिय लगेप्रियदर्शी
वह जिसे भाषा का पूरा ज्ञान हो भाषाविद
वह जो किसी के मर्म को जानलेमर्मज्ञ
वह जो मास में एक बार हो मासिक
वह जो कम बोलता है
मितभाषी
वह जो कम खर्च करता हैमितव्ययी
क्रम के अनुसारयथाक्रम
वह जो खुले हाथ से दान करेमुक्तहस्त
जहाँ तक सम्भव हो यथासंभव
वह जिसने मृत्यु को जीत लिया हो मृतुन्जय
शक्ति के अनुसारयथाशक्ति
प्रतिष्ठा प्राप्त व्यक्ति 
लब्धप्रतिष्ठ 
बालक को सुलाने के लिए गाया जाने वाला गीतलोरी
वह जो वर्णन से परे होवर्णनातीत
वह जो बहुत ज्यादा बोलता है वाचाल
माता - पिता का सन्तान के प्रति प्रेमवात्सलय
इच्छानुसार गर्मी व सर्दी का वातावरणवातानुकूलित
वर्ष में एक बार होवार्षिक
वह पुरुष जिसकी पत्नी मर गयी होविधुर
वह जो विषय विशेष का ज्ञाता होविशेषज्ञ
वह जो वेदों का ज्ञाता हो वेदज्ञ
वह जिसे व्याकरण का पूरा ज्ञान होवैयाकरण
वे हथियार जो हाथ में पकड़कर चलाये जाते हैंशस्त्र
शत्रु को मारने वाला 
शत्रुघ्न
छूत से फैलने वाला रोगसंक्रामक
वह जो सबको समान रूप से देखेसमदर्शी
वह जो अपने आप पर निर्भर होआत्मनिर्भर/स्वावलंबी
देश का शासन चलाने हेतु नियमों की पुस्तकसंविधान
वह जो सब कुछ जानता होसर्वज्ञ
वह जो समान आयु का होसमवयस्क
एक ही समय से सम्बन्धितसमकालीन
उसी समय घटित होने वालासमसामयिक




Previous
Next Post »

उत्साहवर्धन के लिये धन्यवाद! ConversionConversion EmoticonEmoticon