एकार्थी प्रतीत होने वाले भिन्नार्थक शब्द bhinnaarthak shabd

एकार्थी प्रतीत होने वाले भिन्नार्थक शब्द bhinnaarthak shabd



एकार्थी प्रतीत होने वाले भिन्नार्थक शब्द  bhinnaarthak shabd


प्रत्येक भाषा में कुछ शब्द ऐसे होते हैं जो समान अर्थ देने वाले लगते हैं, पर वास्तव में ऐसा नही होता है। उनके अर्थ एक दूसरे से भिन्न होते हैं । अधिकांश पर्यायवाची शब्द एकार्थक न होकर मिलते जुलते अर्थ वाले होते हैं। एकार्थक प्रतीत होने वाले शब्दों के अर्थ में सूक्ष्म भेद होता है । इस सूक्ष्म भेद को जानकर हम अपनी भाषा में विशेष आकर्षण उत्पन्न कर सकते हैं । सही स्थान पर सही शब्द का चयन हमारी भाषिक जानकारी के स्तर को दर्शाता है ।  अतः हम यहाँ ऐसे ही कुछ शब्दों की सूची दे रहें हैं जो निश्चित तौर पर ऐसे शब्दों के सूक्ष्म अंतर को पहचानने में मददगार साबित होगी ।

एकार्थी प्रतीत होने वाले भिन्नार्थक शब्द सूची

 शब्द       

  अर्थ  में अंतर

अभिभाषण 
व्याख्यान
 लिखित भाषण 
मौखिक भाषण
अति 
अधिक 
  बहुत अधिक
ज्यादा / तुलना में 
अभिमान 
अहंकार 
स्वाभाविक गर्व 
 झूठा घमण्ड
अनुरोध 
आग्रह 
विनयपूर्वक हठ
  हठ
अवस्था 
आयु 
जीवन का एक भाग
 सम्पूर्ण जीवन
अर्चना 
पूजा 
बाह्य सत्कार / नैवेद्य 
 मानसिक एवं बाह्य दोनों
अनुसंधान  
अन्वेषण 
आविष्कार 
रहस्य का पता लगाना 
आज्ञात स्थान की खोज 
 नई वस्तु की खोज
अभिवादन  
अभिनन्दन 
प्रणाम
स्वागत
अनिवार्य  
आवश्यक  
जिसके बिना काम न चले 
 जरूरी
अमूल्य 
बहुमूल्य  
जिसका मूल्य न आंका जाय 
 बहुत कीमती
अशुद्धि 
भूल 
लिखने व बोलने में गलती 
सब प्रकार की गलती 
अपवाद 
निन्दा 
बिना प्रमाण के दोषारोपण
तथ्यों पर दोषारोपण
अनुभव 
अनुभूति 
कर्मेन्द्रियों से प्राप्त बाह्यज्ञान 
 ज्ञानेन्द्रियों से प्राप्त आन्तरिक ज्ञान
अनुरोध 
आग्रह 
नम्रतापूर्वक याचना 
अधिकार की भावना से माँगना 
अनुशीलन  
अध्ययन  
सूक्ष्म एवं गहन चिन्तन 
 सामान्य पढ़ना
अवसान 
अन्त 
कुछ समय के लिए समाप्त 
 सदा के लिए समाप्त
त्रुटि 
दोष 
भूल की अपेक्षा गहरा भाव
 त्रुटि से भी गहरा भाव
आवेदन  
निवेदन
नौकरी हेतु पत्र 
विनयपूर्वक कथन 
काल  
युग 
समय की सत्ता 
 समय की सीमा
कर्तव्य 
कार्य 
नैतिक बन्धनयुक्त कार्य
 सामान्य काम
उपहार  
भेंट  
अन्य को दी जाने वाली 
 बड़ों को दी जाने वाली 
उन्नति  
प्रगति  
ऊपर उठते हुए विकास 
 साधारण विकास
उदाहरण 
दृष्टान्त
नमूना प्रस्तुत करना
प्रमाण देना 
आचार 
व्यवहार
वैयक्तिक आचरण 
सामाजिक आचरण
आकार 
रूप 
बनावट / डीलडौल 
रूप आकृति / शक्ल 
कारण  
हेतु 
कार्य सम्पन्न करने का साधन
 उद्देश्य
 ग्लानि
घृणा 
स्वयं के प्रति अरुचि 
 दूसरों के प्रति अरुचि उत्पन्न भाव
निर्णय 
न्याय 
फैसला
 सत्य असत्य प्रकट करना
धारणा  
विचार 
विश्वास 
 मन्तव्य  प्रकट करना
तन्द्रा 
निद्रा 
ऊँघना / झपकी लेना
गहरी नींद 
टीका  
भाष्य 
मूल पुस्तक का सामान्य अर्थ 
ग्रन्थ की विवेचनात्मक व्याख्या
चिह्न  
लक्षण 
निशान
विशेषताएँ
चमत्कार  
आश्चर्य 
आश्चर्य जनक वस्तु 
अप्रत्याशित घटना / दृश्य का उत्तपन्न भाव
परामर्श  
मन्त्रणा 
सामान्य सलाह / विचार विनिमय 
 गुप्तरूप से विचार विनिमय
निरीक्षक  
परीक्षक 
किसी व्यवस्था की देख रेख करने वाला
 किसी की योग्यता की जाँच करने वाला
पारितोषिक 
पुरस्कार 
प्रतियोगिता में विजयी होने पर दिया जाता है
अच्छे कार्य व सेवा पर दिया जाता है
साहस  
वीरता 
भय रहित शक्ति 
 प्राकृतिक शक्ति 
प्रेम 
स्नेह 
वात्सल्य 
सामान्य अनुराग 
 छोटों के प्रति प्रेम / प्यार 
 माता पिता का सन्तान के प्रति प्रेम
लालसा   
लोभ 
अप्राप्य के प्राप्ति की इच्छा 
आवश्यकता से अधिक प्राप्ति की इच्छा
योग्यता  
क्षमता 
गुणयुक्त विशेषता 
 शारीरिक शक्ति
प्रयत्न 
प्रयास 
कार्य करने का हल्का भाव
 अत्यधिक प्रयत्न
संस्कृति 
सभ्यता 
आध्यात्मिक उन्नति 
 भौतिक उन्नति 
 सूचना 
सन्देश 
विशेष घटना का समाचार 
 व्यक्तिगत सूचना
वैभव   
सम्पत्ति 
ऐश्वर्य
धन
स्त्री 
पत्नी

महिला 
सामान्य नारी
एक व्यक्ति के साथ विवाह पश्चात
वह उसकी पत्नी कहलाएगी
कुलीन परिवार की स्त्री
हत्या 
बलिदान 
प्राण लेना
देश व धर्म के लिए प्राण देेना
प्रशंसा 
स्तुति 
बड़ाई
यश का बखान





Previous
Next Post »

उत्साहवर्धन के लिये धन्यवाद! ConversionConversion EmoticonEmoticon