Top Ad unit 728 × 90

हिन्दी की प्रमुख कहानी एवं कहानीकार Leading story and writer of Hindi

हिन्दी की प्रमुख कहानी एवं कहानीकार  भाग-2 Leading story and writer of Hindi part-2

हिन्दी कहानी की विवेचना हम पूर्व भाग में कर चुके हैं। अतः इस भाग में हम हिन्दी के प्रमुख कहानीकारों व उनकी कृतियों की सूची मात्र दे रहे हैं। हिन्दी कहानी का पूर्व भाग पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें- हिन्दी कहानी भाग-1 ।

Hindi story



 कहानीकार 

 प्रमुख कहानियां 

 विशेष /कहानिसंग्रह

 शिवप्रसाद सितारेहिंद  राजा भोज का सपना
 किशोरीलाल गोस्वामी  इंदुमती हिन्दी की प्रथम कहानी,1900 सरस्वती में प्रकाशित
 बंग महिला दुलाईवाली
 माधवराव स्प्रे एक टोकरी भर मिट्टी
 आचार्य रामचंद्र शुक्ल ग्यारह वर्ष का समय
 लाला भगवानदीन प्लेग की चुड़ैल
 विश्वम्भर नाथ शर्मा 'कौशिक' रक्षाबंधन, ताई, विधवा, विद्रोही, पतित पावन गल्प मंदिर, चित्रशाला, प्रेम प्रतिमा, मणिमाला, कल्लोल
 चन्द्रधर शर्मा 'गुलेरी'  उसने कहा था, बुद्धू का कांटा, सुखमय जीवन
 प्रेमचन्द सौत(1915), पंच परमेश्वर, बलिदान, विध्वंस, हार की जीत, बूढ़ी काकी, विचित्र होली, शतरंज के खिलाड़ी, पूस की रात, ठाकुर का कुआं, ईदगाह, नशा, बड़े भाई साहब, कफ़न लगभग 300 कहानियां, मानसरोवर नाम से आठ खण्डों में संकलित, सौत हिन्दी में प्रेमचंद की पहली कहानी ।
 जैनेन्द्र कुमार जाह्नवी, पत्नी, हत्या, अपना-अपना भाग्य, एक दिन, ग्रामोफोन का रिकॉर्ड, तत्सत,ध्रुवयात्रा, विज्ञान फाँसी(1929) प्रथम कहानि संग्रह, खेल (1928) प्रथम कहानी, मनोविश्लेषणवादी कथाकार। फांसी, वातायन, निलमदेश की राजकन्या, एक रात , दो चिड़िया, पाजेब, जयसन्धि ।
 जयशंकर प्रसाद मधुआ,ममता, चूड़ीवाला, गुंडा, देवदासी, देवरथ, बेड़ी, घीसू, छोटा जादूगर, व्रतभंग, आकाशदीप, पुरस्कार ग्राम(1911) प्रथम कहानी इंदु में प्रकाशित, सालवती(1936) अंतिम कहानी।
छाया, प्रतिध्वनि, आकााशादीप, आंंधी,इंंद्रजाल, 
पाण्डेय बेचन शर्मा'उग्र'उसकी माँ, ऐसी होली खेलो लाल, चिंगारियां, शैतानमण्डली, दोजख, निर्लज्जा, चाकलेटचिंगारियां, शैतानमण्डली, दोजख, निर्लज्जा, चाकलेट, इंद्रधनुष, बलात्कार
विनोदशंकर व्यासविधाता, कल्पनाओं का राजा, अपराध हृदय की कसक(1927) प्रथम कहानी। तूलिका, नवपल्लव, भूलिबात, धूपदीप।
 चतुरसेन शास्त्री अम्बपालिक, हल्दीघाटी, भिक्षुराज, बाण वधु, पनाधाय,रुठिरानी,सिंहगढ़ विजय
 उपेन्द्रनाथ अश्क डाची,पलंग, गोखरू, अंकुर, नासूर, पिंजरा, कांगड़ा का तेली पिंजड़ा, अंकुर, निशानियां, दो धारा, छींटे, बैंगन का पौधा, आकाशचारी, काले साहब, जादुई शाम का गीत, पलँग, झेलम के सात पुल
 राधिका रमण प्रसाद सिंह कानो में कंगना, घुघनी, दरिद्रनारायण गाँधी टोपी
 राहुल सांकृत्यायन सतमी के बच्चे
 सुमित्रानन्दन पन्त पानवाला
 सूर्यकांत त्रिपाठी निराला पद्मा, लिली,सुकुल की बीवी
 पुदुमलाल पुन्नालाल बख्सी झलमला, अंजलि, कनकरेखा
 सुभद्राकुमारी चौहान पापी पेट बिखरे मोती, उन्मादिनी
शिवरानी देवी  कौमुदी
 ऊषा देवी मित्रा पीउ कहा, मूर्त मृदंग, देवदासी, मन का मोह
सुमित्रा कुमारी  नारी का सपना , सफल नारीत्व, गृहलक्ष्मी, सुखिया
 होमवती देवी निसर्ग
 भगवती प्रसाद वाजपेयी मिठाईवाला, स्वपनमयी, शबनम, निंदिया लगी, वंशिवादन, झांकी, उपहार, हृदयगति, यमुना,  मधुपर्व, दीपमालिका, हिल्लोर, खाली बोतल, ज्वार भाटा, उतार चढ़ाव
 भगवती चरण वर्मा प्रायश्चित, मुगलों ने सल्तनत बख्श दी, एक अनुभव, विवशता, वरना तुम भी आदमी थे काम के दो बाँके, इंस्टालमेंट, राख और चिंगारी
 वृदांवन लाल वर्मा शरणागत, कलाकार का दण्ड
 यशपाल मक्रील,धर्मरक्षा, कर्मफल, मनु की लगाम, ज्ञानदान, करवा का व्रत, प्रतिष्ठा का बोझ, परदा, दूसरी नाक, प्रेम का सार पिंजरे की उड़ान, ज्ञानदान, अभिशप्त, वो दुनिया, धर्मयुद्ध, उत्तराधिकारी, उत्तमी की माँ, खच्चर ओर आदमी, भस्मावृत चिंगारी।
 इलाचंद्र जोशी रोगी, परित्यक्ता, दुष्कर्मी, मिस्त्री, चौथे विवाह की पत्नी, प्रेतात्मा धुपरेखा, दिवाली और होली, आहुति, खण्डहर की आत्माएं, रोमांटिक छाया
 शिवप्रसाद सिंह नन्हों, दादी माँ आरपार की माला, कर्मनाशा की हार, मुर्दासराय, अंधेरा हंसता है, भेड़िए
शिवपूजन सहाय शरणागत की रक्षा, कहानी का प्लाट महिला महत्त्व, विभूति
 मनु भंडारी क्षण, यही सच है, मैं हार गई, तीन निगाहों की एक तस्वीर, आँखों देखा झूठ, त्रिशंकु, तीसरा आदमी, कृषक बन्द दराजों के साथ, त्रिशंकु,  तीन निगाहों की एक तस्वीर
 रविन्द्र कलिया कहानी अधूरी है, छायाबद्ध, तीसरी सांस, शिकस्त
 रघुवीर सहाय मेरे और नंगी औरतों के बीच, सेब, मुठभेड़, तीन मिनट रास्ता इधर से है, जो आदमी हम बना रहे हैं।
 कृष्ण बलदेव वैद्य एक कुतुबमीनार, छोटा सा , मेरा दुश्मन, भूत, इंकार, अगर मैं आज, जामुन की गुठली
 शैलेश मटियानी दो दुखों का सुख, हारा हुआ, तीसरा सुख, महाभोज, चील
 फणीश्वरनाथ रेणु रसप्रिया, पंच लाइट, तीसरी कसम, गुलफाम, पहलवान की ढोलक, संवदिया,  ठुमरी, आदिम रात्रि की महक, अग्निखोर, अच्छे आदमी, एक श्रावणी दोपहर की धूप
 निर्मल वर्मा परिंदे, लन्दन की रात, कुत्ते की मौत कव्वे और काला पानी, परिंदे, बीच बहस में, जलती झाड़ी, पीछली गर्मियों में
 धर्मवीर भारती गुलकी बन्नो मुर्दो का गांव, स्वर्ग और पृथ्वी, चांद और टूटे हुए लोग, बन्द गली का आखिरी मकान
 राजेन्द्र यादव रोशनी कहाँ है, प्रतीक्षा, बिरादरी बाहर, एक कमजोर लड़की, लंच टाइम, भविष्यवक्ता देवताओं की मूर्तियां, खेल खिलौने, जहाँ लक्ष्मी कैद है, अभिमन्यु की आत्महत्या, टूटना, अपने पार
 अमरकांत हत्यारे, दोपहर का भोजन, जिंदगी और जोंक, लोक-परलोक जिंदगी और जोंक, देश के लोग, मौत का नगर, मित्र मिलन, कुहासा
 मोहन राकेश मलबे के मालिक, मिसपाल, सुहागने, ज़ख्म, अपरिचित, आर्द्रा, उलझे धागे, वासना की छाया में , सेफ्टी पिन नए बादल, जानवर और जानवर, एक और जिंदगी, फोल्ड का आकाश, आज के साये, मिले-जुले चेहरे
 रांगेय राघव गाजी, पिसनहारी, गूंगे, मृगतृष्णा, गदल, आजादी झूठी है, पंचपरमेश्वर, कठपुतले सम्राज्य का वैभव, जीवन के दाने, अधूरी मूर्त, अंगारे न बुझे, इंसान पैदा हुआ
 महीप सिंह उजाले के उल्लू, घिराव, दिल्ली कहां है ? , सहमे हुए, ऐसा ही
 दूध नाथ सिंह विजेता, कबन्ध, रीछ, सुखांत, प्रतिशोध सपाट चेहरे वाला आदमी, पहला कदम, नमो अंधकार, धर्मक्षेत्रे कुरुक्षेत्रे, तू फु, 

हिन्दी की प्रमुख कहानी एवं कहानीकार Leading story and writer of Hindi Reviewed by Pawan pareek on June 15, 2020 Rating: 5

No comments:

उत्साहवर्धन के लिये धन्यवाद!

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.